Bollywood

स्वरा भास्कर के इस ‘मास्टरबेशन’ सीन के बाद से हर पोस्ट पर होती हैं ट्रोल

एक्ट्रेस स्वरा भास्कर बॉलीवुड की सबसे मुखर कलाकारों में से एक हैं। वो हर सामाजिक और राजनीतिक मुद्दे पर अपनी राय रखती हैं। पर इसलिए उन्हें बहुत कुछ झेलना भी पड़ता है। हाल ही में स्वरा ने सोशल मीडिया पर अपने सभी पोस्ट पर मिलने वाले भद्दे कमेंट्स के बारे में खुलकर बात की। उनके अनुसार, वह ‘वीरे दी वेडिंग’ में अपने मास्टरबेशन वाले सीन के चलते किसी फूल की तस्वीर भी पोस्ट नहीं कर सकतीं।

स्वरा ने अपने ट्विटर स्पेस पर हुई बातचीत का एक अंश साझा करने के लिए अपने इंस्टाग्राम हैंडल का सहारा लिया। उसने कहा, श्सोशल मीडिया एक वर्चुअल पब्लिक प्लेस है। जो कि वैसा ही है, जैसे सड़कें और रेस्टोरेंट। लेकिन आज भी पब्लिक प्लेस में शालीनता और बुनियादी सामाजिक शिष्टाचार बना हुआ है। लेकिन, ऑनलाइन ऐसा नहीं है। मैं एक फूल की फोटो भी पोस्ट नहीं कर सकती, जिस पर लोग ‘वीरे दी वेडिंग’ के मेरे मास्टरबेशन वाले सीन को लेकर कुछ ना कहें।’

आगे विस्तार से, उसने कहा, ष्यह बचकाना है और साइबर यौन उत्पीड़न जैसा है। लेकिन, मुझे महसूस होता है कि इसके आगे झुकना या फिर इसके कारण सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से दूरी बनाने के बारे में नहीं सोचतीं। हम वर्चुअल पब्लिक स्पेस को नफरत, कट्टरता और धमकाने के लिए नहीं सौंप सकते हैं।

इससे पहले, ईटाइम्स से बात करते हुए कि सकारात्मक मानसिकता के साथ हर रोज ट्रोल से निपटना और सामाजिक कारणों से लड़ना कितना मुश्किल है, स्वरा ने कहा था, “यह वास्तव में इस बात पर निर्भर करता है कि मेरे लिए दिन कैसा है। अगर मेरा दिन अच्छा चल रहा है, तो मुझे वास्तव में परवाह नहीं है। अगर मैं लो फील कर रही हूं, तो मैं उन्हें सुना देती हूं। कुछ दिन आप उनसे बेहतर तरीके से निपटते हैं, कुछ दिन आप बस नहीं कर सकते। लेकिन मैंने उनसे निपटना सीख लिया है। मुझे लगता है कि मैंने उनके प्रति एक मोटी त्वचा विकसित कर ली है। मैं हमेशा हास्य और बुद्धि का उपयोग करने की कोशिश करता हूं क्योंकि मुझे पता है कि मैं अकेली इंसान नहीं हूं जो इसका सामना कर रहा है।

आगे स्वरा ने कहा था, श्मुझे पता है कि बहुत से लोग इसका सामना कर रहे हैं, खासकर महिलाएं। मुझे लगता है कि हम सभी को एक-दूसरे से ताकत लेनी चाहिए। मैं चाहता हूं कि लोग मुझे देखें और कहें कि हम इससे भी निपट सकते हैं, आप जानते हैं। और यह उनकी गलती नहीं है कि उन्हें ट्रोल किया जा रहा है। शर्म हमें नहीं आनी चाहिए, हम यहां पीड़ित हैं। हम अपने मन की बात कह कर कुछ गलत नहीं कर रहे हैं।श् 

Back to top button